Free Hindi Shayri Quotes by Vishal Parekh | 66

ज़िन्दगी में किसी मोड़ पर खुद को तन्हा न समझना, 
साथ हूँ मैं आपके खुद से जुदा मत समझना

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories