Free Hindi Shayri Quotes by Rahul Pandey | 111513299

शायर ✍🏻

सिमट रहे हैं अल्फ़ाज़ मेरे,
ना जाने क्या सितम हो रहा !!!
तू नहीं तो क्या हूं मैं????
एक बेगाना शायर लि

read more
Rahul Pandey 2 years ago

शुक्रिया

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories