Quotes by jagrut Patel pij in Bitesapp read free

jagrut Patel pij

jagrut Patel pij

@jagrutpatel1479


તારી અલગારી આંખડીમાં અલક મલક,
જોઈ થાય "મન" હૃદય આ છલક છલક...
તું જ આંખ નિહાળી, તું જ રૂપ આ ભાળી,
"મન" કલમ આ કાળી થાય સરક સરક...

-jagrut Patel pij

Read More

ચાહવાની રીત ખબર હોય તો જ હું ચાહું ..
પેલી નખરાળી ની વાત માં હું એમ ના આવું ...

-jagrut Patel pij

मेरे किरदार से वाकिफ होने की कोशिश ना कर..
हमने वजूद खोकर खुद का होना सिखा है...

-jagrut Patel pij

નીરખી મને છુપાવ ના તારા હોંઠો નો મલકાટ...
નીરખી તને છુપાવે ક્યાં છુપે આ તલસાટ...

-jagrut Patel pij

मैं कश्ती में अकेला तो नहीं हूँ,
ये दरियाँ भी साथ है मेरे सफर में...

मैं दे रहा हूँ तुझे ख़ुद से इख़्तिलाफ़ का हक़,
मगर तेरी हाँ भी मिली थी सफर में...

इरादा तो नहीं है ख़ुद-कुशी का,
मगर तेरी भी जिद्द मैं मर जाऊ सफर मैं...

दाइम पड़ा हुआ तेरे दर पर हूँ मैं
जिंदगी ख़ाक हुयी पत्थर हुआ हूँ मैं सफर में...

अब तो मैं भी नहीं हूँ अपनी तरफ में
और उसका ज़माना हुआ है सफर में...

-jagrut Patel pij

Read More

जिस और भी देखूँ नज़र आता है कि तु है
ये कोई और तुझ सा है कि तु है

-jagrut Patel pij

ઘોંઘાટ હૃદયમાં ને "મન"
આ આંખો શાને ભીંજાય છે..!

-jagrut Patel pij

जिधर जाते हैं सब जाना उधर अच्छा नहीं लगता
मुझे अब मंज़िलो का सफ़र अच्छा नहीं लगता

-jagrut Patel pij

सुब्ह सुब्ह ज़ुल्फ़ें न यूँ बिखराइए
लोग धोखे में रहै की शाम हो रही