Quotes by डॉ अनामिका in Bitesapp read free

डॉ अनामिका

डॉ अनामिका Matrubharti Verified

@rsinha9090gmailcom
(97)

कसूर क्या था
मैं समझ न सकी
--
रिश्ते कुछ इस तरह पलीद हुए
बिछड़ जाने के बाद
---
जब उसे समझ आया..
अकेले जीने की आदत हो चुकी थी
(डॉ अनामिका)
#Relationship

Read More

मशरूफ रहिए इतना,किसी का इंतजार न खले
कोई मिले तो सही ,नहीं तो अकेले भले
(डॉ अनामिका)

कालांतर के सरोवर में जो *कमल* खिला .
इतिहास उसका गवाह है
वेद,उपनिषद,के 'श्लोकों व ऋचाओं' ने
ख्यातिलब्ध का जो पालना बनाया..
जनमानस आज भी उसके साथ अग्रसर है..
(डॉ अनामिका)

Read More

बदले कई दुख-भरे पन्ने,वर्तमान के इतिहास में
कितने और परिवर्तन लिखें हैं,इस शख्सियत के हाथ में..
(डॉ अनामिका)

Read More

जब भी चाहो मुझसे मिलने चले आना
मुहब्बत हूँ तुम्हारी इंतजार करूंगी कयामत तक.
(डॉ अनामिका)

महाराष्ट्र दिन के पावन अवसर पर ध्वजारोहण.. जयहिंद जयभारत...
धन्यवाद
"डॉन बॉस्को पब्लिक हाई स्कूल" एवं "श्री साईबाबा हिंदी हाईस्कूल "
एवं धन्यवाद ट्रस्टी सर जी.. आपने अपने विद्यालय में ध्वजारोहण का पावन अवसर दिया🙏

"ऐ वतन तेरा कर्ज है मुझपर
तेरे इस कर्ज को चुकाने का पावन
अवसर चाहिए..
" इक ख्वाहिश है मेरी..
मेरे मरने पर तिरंगा कफ़न चाहिए "

Read More

जिंदगी की शर्त यही है हंसना और हंसाना
सबकुछ यही रह जाएगा,फिर क्यों इतना सकुचाना
(डॉ अनामिका )

गुजर हुई निशा,संग ले गयी परेशानियां
भोर की किरणें अब बिखेर रहीं हैं सुंदर रश्मियाँ.
(डॉ अनामिका)

मेरे इश्क़ की तौहीन ना कर, वरना पछताएगा.
दुसरी को ढूंढने के चक्कर में,पहला इश्क़ गंवाएगा...
(डॉ अनामिका)

खूबसूरत वादियों में पंखुड़ियाँ बन बिखर जाऊं
इक ख्वाहिश है मेरी,रंगबिरंगे फूलों सा निखर जाऊं.
(डॉ अनामिका)

Read More