Free Gujarati Poem Quotes by Writer Shuchi | 111215464

ढलती शाम मे वो ब्रेड बटर और चाय....
याद दिलाती है,
कॉलेज के कैंटीन मे होती वो मस्ती भरी खिचाय....
और फिर ठहाको की बारिश....!!

~ By Writer_shuchi_

View More   Gujarati Poem | Gujarati Stories