Free Hindi Romance Quotes by Missamittal | 111748252

जज्बात है दिखाए क्यों
आंसू है निकाले क्यों
यादे दिल की कब्र में कैद हैं
खोल कर एहसास जगाए क्यों
अपने दुख को दुनिया के बाजार में सजाएं क्यों
Missamittal

View More   Hindi Romance | Hindi Stories