Free Hindi Thought Quotes by Khushboo Bhardwaj RANU | 111760339

""""जब हम अपने बच्चों में अपना बचपन और अपने माता पिता को देखकर अपने भविष्य का अहसास करेगे ना,,,,,, तब एक पल की भी देरी नहीं कर पाएगे दौड़कर अपने माता पिता के गले लगने से!!!!""""
😊😊🧡🧡

अपना बचपन याद करके माँ पिता का त्याग,, तपस्या समझ आएगी और माता पिता को देखकर अपने कर्तव्य!!!!


khushboo

Naresh Gajjar 7 months ago

उनके एहसानो सिर्फ महसूस किया जाता है, शायद बया करना हमारे बस की बात ही नही है।🙏🙏

Khushboo Bhardwaj RANU 7 months ago

कोशिश की है😊

A.P 7 months ago

Sahi kaha apne di 😊

View More   Hindi Thought | Hindi Stories