Free Hindi Thought Quotes by Roopanjali singh parmar | 111724277

पानी जिस भी जगह पर ठहरता है ,उस जगह को पूरी तरह से गला देता है।
तो क्या आँखों में रोक कर रखे गए आँसू देह को नहीं गलाते..?
क्या ऐसी देह दलदल में तब्दील नहीं हो रही, जहाँ खुशियाँ और भावनाएं धंसती जा रही हैं..

सुनो, तुम जवाब मत देना,
मेरे सवाल ख़त्म नहीं होते।
#roopkibaatein #roopanjalisinghparmar #roop #रूपकीबातें

View More   Hindi Thought | Hindi Stories