Free Hindi Shayri Quotes by Deepak Sawase | 111339944

हमने छोड़ दी है वो गलियां
जिस गली मे तेरा घर था,
अब वीरान सी लगने लगी है जिंदगी
जिसे बरसों से तेरा इंतजार था.

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories