राज़ मोहब्बत के हम छुपा लेंगे तुम आओ तो सही,
राज़ मोहब्बत के हम छुपा लेंगे तुम आओ तो सही,

ज़ख्म दिल के सब सिला देंगे तुम आओ तो सही,

माना के मशहूर है मेरा अंधेरो का शहर,
चाँद आंगन में ऊगा देंगे तुम आओ तो सही ।

English Shayri by Shakti Pandya : 111692568

The best sellers write on Matrubharti, do you?

Start Writing Now