एक मैं एक तुम और थोड़ी सी मोहब्बत तुम्हारी
सिर्फ़ इतना ही काफ़ी है ज़िन्दगी ज़ीने के लिए

-दिनेश कुमार कीर

Hindi Romance by दिनेश कुमार कीर : 111919817

The best sellers write on Matrubharti, do you?

Start Writing Now