Free Hindi Shayri Quotes by SHUBHAM SONI | 111814947

एक रोज़ जो तुम्हें देखा...…
---------------------------------------------------------------------------
अचानक मेरे सामने जो आ गए तुम
सोचा कि नज़र हटा लूं, न देखूं तुम्हें
मगर, दिल है की माना ही नहीं,
यूं ही एकटक देखता रहा.. उसे..!!
इन इशारों में बस एक ही सवाल था,
किसकी खातिर तुमने हमें छोड़ा,
आखिर कौन तुम्हें, हमसे ख़ास था ।
---------------------------------------------------------------------------

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories