हम सिर्फ अल्फ़ाज़ ही नहीं लिखते
उसमें,,,,,,,💔 दर्द पिरोते हैं,
हम शायर हैं दोस्त ,,,
जो स्याही से रोते हैं ,,,,@

Hindi Shayri by Abbas khan : 111900476
Abbas khan 4 months ago

Thank you .bahen.🙏🏻

Abbas khan 4 months ago

Thank you .bahen.🙏🏻

Shefali 4 months ago

क्या बात 👌🏼

Shailesh Joshi 4 months ago

આભાર ભાઈ

Abbas khan 4 months ago

वाह शैलेशभाइ,,,👌🏻 आप का जज्बा अगर मजबूत हो तो फिर आप जहां भी जाएंगे रास्ता बनता जाएगा

Shailesh Joshi 4 months ago

और इन्हीं श्याही कि बदौलत और मजबूती से.... फिर खड़े होते हैं 👍

The best sellers write on Matrubharti, do you?

Start Writing Now